sochbadlonow
82 / 100


सामान्य अर्थ में शब्द ‘जिहाद’एक बगावती और आतंकी भावना को इंगित करता है .लेकिन लव (love)  या प्रेम को जिहाद के साथ संलग्न करके देखना कुछ  अजीब सा लगता है,और इसमें कुछ साजिस  भी नजर आती है .लव जिहाद की कहानी भारत में लगभग 1 दशक पुरानी है.लव जिहाद का पहला विवाद 2009 में केरल राज्य से शुरू हुवा.जब हिन्दू संगठनों ने एक मुस्लिम लड़के और हिन्दू लड़की की शादी को लव जिहाद का नाम देकर बवाल शुरू कर दिया.

जिहाद क्या है?What is jihad

सामान्यतः ‘जिहाद’ (jihad) एक अरबी शब्द है.अरबी में जिहाद का मतलब होता है किसी उद्देश्य के लिए संघर्ष करना या प्रयास करना.जब से दुनियां के देशों में धार्मिक कट्टरता बड़ी है जिहाद को धर्मयुद्ध से भी जोड़ा गया है.

हिंदू लव जिहाद:Hindu love jihad

अगर मुस्लिम लड़का हिंदू लड़की से प्रेम विवाह करता है तो उसको ‘हिंदू लव जिहाद’ नाम दिया गया है.ये बड़ी अजीब विडंबना है सत्य, अहिंसा और प्रेम जिस राष्ट्र की मूल भावना हो वहां प्यार को हिंदू -मुस्लिम नजरिये से देखना विचित्र लगता है.जिस देश में लैला मजनू और हीर रांझा जैसे प्रेमियों की प्रेम कहानी अमर है,उस देश में प्यार को ‘जिहाद’मानकर खून खराबा करना बुद्ध और कृष्ण की धरती का अपमान लगता है.

भारत में लव जिहाद की inside स्टोरी

भारत में ‘लव’ जिहाद की शुरुवात कहाँ से हुई? :

भारत में ‘लव जिहाद की ‘की शुरुआत केरल और कर्नाटक राज्य से हुुु

क्या है लव जिहाद की Hate स्टोरी ?जानें लव जिहाद के 2 सच:

समाज की आंखों में धर्म और राजनीति का काला चश्मा पहना दिया गया है.ऊंचे पहुंच और नामी-गिरामी लोग कुछ भी करें ओ उनका निजी मामला हो जाता है.लेकिन गरीब और मध्यवर्ग के लिए प्यार करना और धर्म तथा जाति के बंधन को तोड़ना ‘जिहाद’हो जाता है आखिर क्यों?देखें लव जिहाद का वास्तविक इतिहास.

ये भी पढ़े—- अंधविश्वास क्या है?जानें गरुड़ पुराण के 2 wonderful अंधविश्वास ,सोच बदलो

मुख्तार अब्बास नकवी और सीमा

मुख्तार अब्बास नकवी जो बीजेपी के नेता हैं ,और वर्तमान में केंद्र में मंत्री भी हैं.उन्होंने भी एक हिन्दू लड़की सीमा से प्रेम विवाह किया है.इनको लव जिहाद की श्रेणी से बाहर रखा गया है.ये कहानी मढ़ दी गयी कि भारत में ‘love jihad’ 2009 में केरल से शुरू हुवा.जबकि 1983 में एक मुस्लिम लड़के नेे हिंदू लड़की से प्रेम विवाह केेया था.ये थे मुुुख़्तार अब्बास नकवी और  सीमा.

 भी पढ़े-http://अंधविश्वास क्या है?जानें गरुड़ पुराण के 2 wonderful अंधविश्वास ,सोच बदलो

 यहां मैं love jihad पर   एक क्लिप शेयर कर रहा हूँ जिसको देखकर आप ‘लव जिहाद’ का मतलब रियल में समझ पायंगे.

https://www.facebook.com/AnjumAjit/videos/639453563369865/

शैफ अली खान और करीना कपूर !

हिंदू खानदान की बेटी करीना कपूर और मुस्लिम लड़का शैफ अली खान ने प्रेम किया और अंत में वे शादी के बंधन में बंध गए.मैं पूछना चाहता हूं उन हिंदू प्रेमियों से जो ‘जिहाद'(jihad) के नाम पर हिंदू- मुस्लिम दंगे करा रहे हैं,क्या उनको करीना और शैफ की शादी लव जिहाद नजर नहीं आती.सिर्फ सरीफ और गरीब पर ही धर्म और राजनीति टिकी है?

शाहनवाज हुसैन और रेनू:

इनकी प्रेम कहानी 10 साल तक चली और 1994 में इनका प्रेमविवाह हो गया.तब इनका लव विवाह ‘लव जिहाद की’ श्रेणी में नहीं था क्यों?

 जानें ‘लव जिहाद'(love jihad) का कारण:

‘love jihad’ की हकीकत को समझने के लिए हमको हिंदुस्तान की सामाजिक,धार्मिक और राजनीतिक परिस्थितियों को जानना होगा.और उन पर गहनता से विचार करना होगा.हिंदू समाज के अंदर भी  ‘love jihad’ है.

सामाजिक कारण:

चूंकि बात हिंदू ‘लव जिहाद की ‘ हो रही है  इसलिए हिंदुत्व के अंदर की बात समझना भी जरूरी है.हाल की घटना बरेली में लव जिहाद की है,जहां एक मुसलमान  लड़के ने हिंदू लड़की से प्रेम विवाह कर डाला और उस प्रेम विवाह को कुछ हिंदूवादी संगठनों ने ‘लव जिहाद’मानकर बवाल शुरू कर दिया.

      चलो मान लें ये लव जिहाद है,हिंदू लड़कियों को जबरन फंसा कर धर्मान्तरण किया जा रहा है.लेकिन इसी बरेली में विगत वर्ष एक दलित  लड़के ने सवर्ण  लड़की से प्रेम विवाह  किया तो सवर्ण हिंदू आगबबूला हो गए ,या यूं कहें  कि ये प्रेम विवाह भी मानो ‘लव जिहाद’ से कम नहीं था.आखिर एक ही धर्म में भी अंतर्जातीय विवाह स्वीकृत नहीं तो ये कैसा ‘सत्यंम  शिवम सुंदरम ‘का भारत है?

    धार्मिक कारण(Religious reasons):

धर्म ने विश्व को सम्प्रदायों में बांटा है.चाहे कोई भी धर्म हो वो अपने को श्रेष्ठ समझता है.और अपनी संख्या बढ़ाना चाहता है.जिसको धर्मांतरण कहा जाता है.धर्मान्तरण भी 3 कारणों से होता है.

  1. जबरन कराया गया धर्मान्तरण

2. अपने धर्म से प्रताड़ित होकर स्वेच्छा से किया गया धर्मान्तरण.

3.प्रलोभन द्वारा किया गया धर्मान्तरण

  जब किसी व्यक्ति या समुदाय को अन्य धर्म के लोगों द्वारा डरा या धमकाकर धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर किया जाता है.तो उसको जबरन कराया गया कहा जाता है.

  अपने मूल धर्म से जिसमें कोई व्यक्ति या समुदाय पैदा होता है,उसको त्याग कर अपनी मर्जी से दूसरे धर्म को ग्रहण करता है तो उसको स्वेच्छा से किया गया धर्म परिवर्तन कहा जाता है.जैसे डॉ अम्बेडकर द्वारा किया गया धर्मपरिवर्तन.

   कुछ धर्म के लोग प्रलोभन देकर गरीबों,आदिवासियों का धर्मान्तरण करते हैं.भारत में ईसाई मिशनरी के लोग ऐसा करते हैं,खबरों में सुना है.लेकिन वास्तविकता क्या है कहा नहीं जा सकता.

‘लव जिहाद’ का राजनीतिकरण:

भारत में इस वक्त हिंदू-मुस्लिम की राजनीति सत्ता से लेकर संगठनों तक हावी हो चुकी है.राजनीतिक दृष्टि से देश स्प्ष्ट रूप से दो भागों में बंटता दिख रहा है ,हिंदू एंड मुसलमान.ये सत्ता को हांसिल करने का षडयंत्र है.अगर .

धर्म की आड़ में नफरत फैलाना हर धर्म का धंधा बन चुका है.देश की सत्ताधारी पार्टी में दो मुसलमान चेहरे प्रमुख हैं जिनका उल्लेख ऊपर किया जा चुका है.उन्होंने भी हिंदू लड़कियों से प्रेम विवाह  किया है.और वे संसद में बैठे हैं,उन पर ,लव जिहाद की थ्योरी क्यों नहीं लागू होती?क्या धर्म,कानून और मान्यताएं सिर्फ गरीब को ही तंग करने के लिए बने हैं.इन तमाम सवालों का उत्तर कौन देगा?सोच बदलने की जरूरत है .


 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here